Singh Rashifal 2020
सिंह राशिफल 2020

सिंह राशिफल 2020

सिंह राशिफल 2020

सिंह राशिफल 2020 के अनुसार, यह वर्ष आपके लिए प्रतिष्ठा और मान-सम्मान बढ़ाने वाला रह सकता है। आपकी राशि के स्वामी  सूर्य वर्ष कुंडली में पंचम स्थान में बुध, गुरु, शनि व केतु के साथ राजित हैं। सूर्य और बुध के योग से बुधादित्य योग बन रहा है जो आपको इस साल प्रसिद्धि दिला सकता है। करियर के लिहाज से यह साल आपके लिए विशेष रूप से लाभकारी रहने की उम्मीद की जा सकती है। सप्तम भाव में चंद्रमा होने से इस साल आपके जीवनसाथी का भी पूरा सहयोग मिल सकता है। अविवाहितों के लिए विवाह के योग भी बन सकते हैं। प्रेम संबंधों में मधुरता के योग भी आपके लिए बन रहे हैं। भाग्य का स्वामी मंगल स्वराशि के माध्यम से चौथे स्थान पर विराजमान है, जो इस वर्ष आपके लिए नया घर, नया वाहन या कोई बड़ी संपत्ति खरीदने का योग बना रहा है। इस साल आपके लिए मातृ सुख भी बढ़ सकती है।

कर्मफल के स्वामी शुक्र, निश्चित रूप से आपको थोड़ा परेशान कर सकते हैं क्योंकि यह आपकी राशि से छठे स्थान पर प्रतियोगिताओं को बढ़ा रहा है, लेकिन मित्र राशि के साथ काम करके, आप कड़ी मेहनत करके इन प्रतियोगिताओं में लाभ प्राप्त कर सकते हैं। राहु एकादश स्थान में होने के कारण पिछले वर्ष में विदेश यात्राओं का योग बना था, इसी तरह छोटी यात्राओं का भी सिलसिला इस वर्ष भी जारी रहेगा।सूर्य का शनि और केतु के साथ के कारण आपके पिता और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वैचारिक मतभेद बढ़ा सकते हैं । जो लोग अपना नया व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हैं और अपने परिवार, विशेषकर पिता पर निर्भर हैं, उन्हें अपने पिता को समझाने के लिए थोड़ा संघर्ष करना पड़ सकता है। नौकरीपेशा लोगों को भी अपने सीनियर्स के साथ अच्छा तालमेल रखने की आवश्यकता होगी। यदि संभव हो, तो अपना कोई भी काम लंबित न छोड़ें।

बृहस्पति ग्रह की उपस्थति वर्ष की शुरुआत में आपको संतान सुख या संतान पक्ष से सुख मिलने का संकेत दे रहे हैं | जो छात्र हैं और उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इच्छुक हैं, उनके लिए मनचाहे कोर्स में प्रवेश पाने के योग बन रहे हैं। विदेश में पढ़ाई करने के इच्छुक जातकों को भी सफलता मिल सकती है।

24 जनवरी को शनि का स्थान परिवर्तन होगा, जो आपकी राशि से छठे स्थान में आएंगे। स्वराशि में शनि के आने से आपके शत्रुओं की संख्या वृद्धि हो सकती है। बीमारियां बढ़ सकती हैं। कहा जाता है कि शनि जिस स्थान पर बैठता है, वहां की वृद्धि करता है। लेकिन स्वराशि के कारण शनि की उपस्थिति के कारण शत्रु आपको नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। केवल मानसिक तनाव रह सकता है।

30 मार्च को बृहस्पति भी मकर राशि में प्रवेश करेंगें। जो आपकी राशि से छठे स्थान में होंगे। यह आपके लिये प्रतियोगिताओं में सफलता के योग बनाएंगें। मान-सम्मान बढ़ेगा। आप न केवल राष्ट्रीय स्तर पर बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी प्रसिद्धि पा सकते हैं। बृहस्पति और शनि के संयोग के कारण नीच भंग राजयोग भी बन रहा है। छोटी-छोटी सफलताओं के साथ, आप बड़ी सफलता की ओर भी बढ़ेंगे। इस समय आप कोई भी अवसर हाथ से जाने न दें।

11 मई को शनि वक्री हो रहे हैं , जिसकी वजह से शत्रुओं से होने वाली परेशानियां अधिक हो सकती हैं। लेकिन वक्री शनि आपको और साहस प्रदान करते हैं  जिसके प्रभाव से इस समय पर आप अपने शत्रुओं को ईंट का जवाब पत्थर से दे सकते हैं। मानसिक उलझनों में बहुत अधिक न पड़ें, इसका असर आपके शादीशुदा जीवन एवं आपके  जीवनसाथी पर पड़ सकता है। जीवन साथी के शारीरिक कष्ट होने की  भी संभावना बन रही है। यदि आप कोई काम करते हैं, तो उसे धैर्य के साथ करने की कोशिश करें। शनि के मार्गी होने के बाद ऐसी सभी समस्याएं कम होती रहेंगी।

11 मई को शनि वक्री हो रहे हैं , जिसकी वजह से शत्रुओं से होने वाली परेशानियां अधिक हो सकती हैं। लेकिन वक्री शनि आपको और साहस प्रदान करते हैं  जिसके प्रभाव से इस समय पर आप अपने शत्रुओं को ईंट का जवाब पत्थर से दे सकते हैं। मानसिक उलझनों में बहुत अधिक न पड़ें, इसका असर आपके शादीशुदा जीवन एवं आपके  जीवनसाथी पर पड़ सकता है। जीवन साथी के शारीरिक कष्ट होने की  भी संभावना बन रही है। यदि आप कोई काम करते हैं, तो उसे धैर्य के साथ करने की कोशिश करें। शनि के मार्गी होने के बाद ऐसी सभी समस्याएं कम होती रहेंगी।

14 मई को गुरु मकर राशि में वक्री होंगे, जिसके बाद गुरु आपके ऊपर जो शुभ प्रभाव डाल रहे हैं वह और बढ़ जाएगा। क्योंकि वक्री होने से शुभ ग्रहों की शुभता बढ़ जाती है।

30 जून, को गुरु वक्री अवस्था में ही पुन: धनु राशि में चले जाएंगें। ये संयोग आप में नयी योजनाएं बनाने और भविष्य के नए प्रयास करने के योग बना रही है |

13 सितंबर को गुरु धनु राशि में मार्गी हो जाएंगें, जिसके बाद आप अपनी योजनाओं को आकार देना शुरू कर देंगे।

इसी वर्ष राहु भी राशि परिवर्तन कर रहे हैं।राहू का परिवर्तन वृषभ राशि में 23 सितंबर को हो रहा है, जो आपकी राशि से कर्मभाव में होंगे। कर्मभाव में राहु के आने से आपके कार्य करने की क्षमता में बढ़ोतरी के आसार बन रहे हैं। वरिष्ठों की उम्मीदें बढ़ सकती हैं। लेकिन उच्च का राहु आपको इस सफलता को प्राप्त करने में मदद करेगा, हालाँकि आपको सफलता के लिए अपने वरिष्ठों और सहायक कर्मियों को साथ रखना होगा। जितना हो सके अहंकार से बचें।

साथ ही केतु माता के स्थान में भी प्रवेश करेंगें , जो आपकी माँ के स्वास्थ्य या स्वभाव में नकारात्मकता  उत्पन्न  कर सकता है।

29 सितंबर से, शनि फिर से अपनी मूल स्थिति में लौट आएंगे, जो धीरे-धीरे काम, स्वास्थ्य, मानसिक तनाव को कम करेंगे ।

20 नवंबर को गुरु, धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंगे, जिसके पश्चात आपके लिए सफलता प्राप्ति के योग बनेंगें।

कुल मिलाकर, वार्षिक राशिफल 2020 सिंह राशि के लिए बहुत अच्छे समय के संकेत कर रहा है।

December 19, 2019
tarot card reading for leo

सिंह राशिफल 2020

वार्षिक राशिफल 2020
error: Content is protected !!